बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय -Home Remedies for Hair Fall

बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय

सुंदर बाल हमारी खूबसूरती में चार चांद लगाते हैं लेकिन यदि ये बाल ही गिरने लगे तो हमारे लिए ऐसी समस्या बन जाते हैं कि इन्हें ठीक करना लगभग मुश्किल हो जाता है। गिरते, टूटते और झड़ते बाल किसी भी महिला के आत्मविश्वास को नकारात्मक तौर पर प्रभावित करते हैं

झड़ते बालों का कारण (Reasons for Hair Fall in Hindi)

 

1. प्राकृतिक कमी

संभव है कि आपकी डाइट से आयरन, कॉपर, जिंक और प्रोटीन जैसे जरूरी पोषक तत्व कम या गायब हों। बालों के गिरने का एक अन्य कारण विटामिन डी की कमी भी है। इससे बचने के लिए सुबह की धूप सेंकना जरूरी है।

2. हार्मोनल असंतुलन

उम्र के तीसरे पड़ाव पर एक महिला हार्मोनल असंतुलन के दौर से गुजरती है जो बालों के गिरने का कारण बनता है। एस्ट्रोजेन ही वह मुख्य हार्मोन है जो महिला निर्माण करती है लेकिन टेस्टोस्टेरोन और डीएचईए जैसे अन्य एंड्रोजेन्स भी एक महिला के शरीर में उत्पन्न होते हैं।

3. थायरॉयड

यदि आपको थायरॉयड है तो बालों के गिरने के साथ ही वजन बढ़ या कम हो जाता है, ठण्ड या गरमी ज्यादा महसूस होती है।

4. पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम

जिन महिलाओं को पीसीओएस होता है उनमें हार्मोनल असंतुलन होता है, जो सामान्य के मुकाबले अधिक एंड्रोजेन्स उत्पन्न करता है। इससे चेहरे और शरीर पर बाल ज्यादा होने की आशंका रहती है लेकिन सिर के बाल कम होने लगते हैं।

5. बर्थ कंट्रोल पिल्स

इन पिल्स में उपस्थित हार्मोन ऑवूलेशन को दबा देते हैं जो बालों के पतले होने का कारण बन सकता है। कई बार जब आप इन पिल्स को लेना बंद करती है तो भी बालों के गिरने की समस्या से सामना करना पड़ सकता है।

6. तनाव

अत्यधिक तनाव की वजह से बाल अचानक गिरना शुरू कर देते हैं, जो महीनों तक गिरते रह जाते हैं।

[ads1]

बालों को झड़ने से रोकने के लिए​ (Baal Jharne se Rokne ke liye Gharlu Upay

 

1. नारियल का दूध

एक मध्यम आकार के नारियल को कसने के बाद बर्तन में डाल कर पांच मिनट के लिए धीमी आंच पर रखें। अब इसे निथार लें और ठण्डा होने दें। इसमें एक चम्मच काली मिर्च पाउडर और मेथी के बीज डालें। इसे स्कल्प और बालों पर लगाएं। 20 मिनट बाद शैंपू से धो लें। इसमें निहित प्रोटीन और एसेंशियल फैट बालों को स्वस्थ रखता है और झड़ने से रोकता है।

2. ग्रीन टी

2-3 टी बैग को दो कप गरम पानी में डालें। जब यह ठण्डा हो जाए तो इसे अपने स्कल्प पर डालें और हल्के से सिर की मालिश करें। एक घण्टे बाद ठण्डे पानी से धो लें। ग्रीन टी एंटी ऑक्सिडेंट का बेहतरीन स्रोत है जो बालों को मजबूत करता है।

3. बीटरुट जूस

बीटरुट के सात-आठ पत्तों को उबालने के बाद पांच-छह मेहंदी के पत्तों के साथ पीस लें। इस पेस्ट को बालों की जड़ों पर लगाएं और लगभग बीस मिनट के लिए छोड़ दें। गुनगुने पानी से बाल धो लें। बीटरुट का यह जूस विटामिन सी और बी6, फोलेट, मैंग्नीज, बेटेन और पोटैशियम का अच्छा स्रोत है जो स्वस्थ बालों के लिए जरूरी है।

4. दही और शहद

दो चम्मच दही में एक चम्मच शहद और नींबू मिलाएं। डाई ब्राश की मदद से इस पेस्ट को स्कल्प और जड़ों पर आधे घण्टे के लिए लगाए रखें। फिर धो दें। इस पेस्ट को सप्ताह में एक बार लगाएं।

5. एलोवेरा

बालों को गिरने से रोकने में एलोवेरा अहम भूमिका निभाता है। इसके एक टुकड़े से गूदा निकालिए और पौने घंटे के लिए स्कल्प पर लगाकर छोड़ दीजिए। फिर सामान्य पानी से धो लें। बेहतरीन परिणाम के लिए इसे सप्ताह में तीन-चार बार लगा सकते हैं।
एलोवेरा में एंज़ाइम होते हैं जो बालों के स्वस्थ विकास को सीधे बढ़ावा देने में शामिल होते हैं। इसके अलावा, अपने एल्कलाइन गुण के कारण ये बालों के पीएच को एक सही स्तर पर लाने में मदद कर सकते हैं और बाल विकास को बढ़ावा दे सकते हैं।
एलोवेरा के नियमित उपयोग से आप खोपड़ी की खुजली को दूर कर सकते है, खोपड़ी की लालिमा और सूजन को कम कर सकते हैं, बालों की शक्ति और चमक बढ़ा सकते हैं और रूसी को भी कम कर सकते हैं। एलो वेरा जेल और रस दोनों ही इस काम में प्रभावी हैं।

6. प्याज का जूस

प्याज के रस में उच्च मात्रा में सल्फर कंटेंट होता है, जो बालों के रोम के लिए रक्त परिसंचरण में सुधार करता है, बालों के रोम का पुनर्निर्माण करने और सूजन को कम करने में मदद करता है जिसके कारण बालों का झड़ना कम हो जाता है। प्याज के रस में जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो बालों के झड़ने का कारण बन सकने वाले कीटाणुओं और परजीवियों को मारने में मदद करता है, और खोपड़ी संक्रमण का उपचार करता है।

प्याज में निहित एंटी बैक्टीरियल गुण स्कल्प को संक्रमण से बचाते हैं और रक्त संचार भी बढ़ाते हैं। प्याज को पीसकर इसमें से जूस निकाल लीजिए। रुई की मदद से स्कल्प पर जूस लगाइए और आधे घण्टे के लिए लगा छोड़ दीजिए। सामान्य पानी से धोने के बाद शैंपू कीजिए। सप्ताह में एख बार ऐसा कीजिए, फर्क खुद ही दिखने लगेगा।

7.बालों की तेल मालिश

अपने बालों को खोने का नुकसान कम करने के लिए जो पहला कदम आप उठा सकते हैं वह है तेल के साथ अपने सिर की मालिश करना। बालों और सिर की उचित मालिश करने से बालों के रोम में रक्त का प्रवाह बढ़ता है और आपके बालों की जड़ों की शक्ति में वृद्धि होती है। यह आपको आराम पहुंचाने और तनाव की भावनाओं को कम करने में मदद भी करेगा।

8.आंवला

बालों के प्राकृतिक और तेज़ी से विकास के लिए, आप आंवले का भी उपयोग कर सकते हैं। आंवला में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता है, जिसकी शरीर में कमी बालों को गिरने का एक कारण हो सकती है।

9.मेथी

मेथी बालों के झड़ने के उपचार में बहुत प्रभावी है। मेथी के बीज में हार्मोन अंटेसीडेंट होते हैं जो बालों के विकास को बढ़ाने और बालों के रोम के पुनर्निर्माण में मदद करते हैं। इसमें प्रोटीन और निकोटिनिक एसिड भी होता है जो बालों के विकास को प्रोत्साहित करता है।

करी पत्ते का तेल

curry leaves करी पत्ते का एक गुच्छा ले कर उसे साफ पानी से धो लें और सूरज की धूप में तब तक सुखा लें, जब तक कि यह सूख कर कड़ा न हो जाए। फिर इसे पाउडर के रूप में पीस लें अब 200 एम एल नारियल के तेल में या फिर जैतून के तेल में लगभग 4 से 5 चम्मच कड़ी पत्ती मिक्स कर के उबाल लें। दो मिनट के बाद आंच बंद कर के तेल को ठंडा होने के लिए रख दें। तेल को छान कर किसी एयर टाइट शीशी में भर कर रख लें।

बालों को घना बनाने के लिए कैसे करें कड़ी पत्‍ते का इस्‍तेमाल?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *